Cart
केले के फायदे सेहत, त्वचा और बालों के लिए

केले के फायदे सेहत, त्वचा और बालों के लिए

24 May, 2022

केला एक ऐसा फल है, जिसकी गिनती चुनिंदा स्वादिष्ट और गुणकारी फलों में होती है। यह एक बहारों माहसी फल है, जो पूरे वर्ष भर बड़ी आसानी से मिल जाता है। केले का अधिक इस्तेमाल तुरंत पेट भरने के लिए किया जाता है। इसके अलावा पेट खराब होने और वजन घटाने के लिए भी केले का सेवन एक सुलभ उपाय है। यही वजह है कि सुबह मॉर्निंग वॉक करते हुए, जिम करने के बाद युवा लोग केले का सेवन करते हैं। जिससे बॉडी बनाने और थकान दूर करने में सहायता मिलती है। इसके अलावा केले का सेवन तनाव, कब्ज, दस्त, ब्लड प्रेशर जैसी तमाम बीमारियों में फायदा करता है।

 

सेहत के लिए केले के फायदे-

वजन घटाने के लिए-

वजन कम करने के लिए उच्च फाइबर डाइट की जरूरत होती है। चूंकि केला फाइबर से भरपूर होता है। जो शरीर में बिना कैलोरी बढ़ाए पेट भरने का काम करता है। इसके अलावा केले में रेसिस्टेंट स्टार्च भी होता है। जो वजन को नियंत्रित करने में मदद करता है।

 

पाचन के लिए-

केले में मौजूद फाइबर पाचन तंत्र को ठीक रखने में मदद करता है। जिससे भोजन अच्छे से पच जाता है और मल निकासी की प्रक्रिया सरल हो जाती है। इसके अतिरिक्त फाइबर कब्ज जैसी पेट संबंधी अन्य परेशानियों में भी लाभ करता है। केले में रेसिस्टेंट स्टार्च भी पाया जाता है। जो पेट के लिए काफी लाभकारी होता है।

 

रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए-

मजबूत प्रतिरोधक क्षमता बीमारी और संक्रमण से लड़ने में मदद करती है। चूंकि केला कैरोटिनॉइड से प्रचुर होता है। जो विटामिन-ए का मुख्य स्रोत है। यह विटामिन-ए इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने का काम करता है। इसलिए शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए केले का सेवन करना अच्छा रहता है।

 

उच्च रक्तचाप और हृदय स्वास्थ्य के लिए-

केले में प्रचुर मात्रा में पोटैशियम मौजूद होता है। जो रक्त वाहिकाओं की दीवारों को आराम पहुंचाकर उच्च रक्तचाप को कम करता है। इसके अलावा पोटैशियम दिल का दौरा, स्ट्रोक और अन्य हृदय रोगों को दूर करने में भी मदद करता है।

 

डायबिटीज के लिए-

केला फाइबर, स्टार्च, विटामिन, खनिज, फाइटोकेमिकल्स और एंटीऑक्सीडेंट सहित कई बायोएक्टिव कंपाउंड का अनूठा मिश्रण है। जो टाइप 2 डायबिटीज से लड़ने का काम करता है। इसके अलावा केले में पोटैशियम भी होता है। जो मधुमेह के इलाज और बचाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

 

हड्डियों के लिए-

केला कैल्शियम से समृद्ध होता है। जो हड्डियों के विकास और मजबूती में अहम भूमिका निभाता है। इसके अलावा केले में मौजूद मैग्नीशियम भी एक खास पोषक तत्व है। जो हड्डियों के विकास और शरीर में कैल्शियम के प्रवाह को बढ़ाने का काम करता है।

 

एनीमिया के लिए-

शरीर में फोलेट की कमी के कारण लाल रक्त कोशिकाओं की कमी होती है। जिससे शरीर को एनीमिया का रोग लग जाता है। दरअसल फोलेट ही लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। चूंकि केला फोलेट से भरपूर होता है। इसलिए एनीमिया से बचाव के लिए केले का सेवन करना अच्छा होता है।

 

डायरिया के लिए-

केला डायरिया के लिए एक कारगर औषधि है। क्योंकि यह फाइबर से भरपूर होता है। जो फाइबर बाउल मूवमेंट को नियंत्रित करके डायरिया से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। इसलिए डायरिया के समय केले का सेवन करना एक अच्छा विकल्प है।

 

मस्तिष्क के लिए-

केला विटामिन-बी6 से भरपूर होता है। जो मस्तिष्क की कार्यप्रणाली को बेहतर करता है। इसके अलावा केले में मैग्नीशियम भी प्रचुर मात्रा में होता है। जो नर्वस सिस्टम पर प्रभावी असर डालकर मस्तिष्क को स्वस्थ रखने का काम करता है।

 

तनाव के लिए-

केले में पोटैशियम मौजूद होता है। जो रक्तचाप को नियंत्रित कर तनाव को दूर करने का काम करता है। इसके अलावा केले में विटामिन-बी भी होता है। जो व्यावसायिक तनाव (Occupational stress) को कम करके कार्य क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है।

 

आंखों के लिए-

केले में तमाम पोषक तत्वों के साथ कैरोटिनॉइड भी मौजूद होता है। जिसे विटामिन-ए के रूप में जाना जाता है। यह विटामिन-ए आंखों के लिए बेहद जरूरी होता है। क्योंकि यह आंखों के रेटिना में पिगमेंट को बढ़ाने और कम रोशनी में भी साफ देखने में मदद करता है। इसलिए आंखों के स्वास्थ्य के लिए केले का सेवन करना एक अच्छा विकल्प है।

 

अनिद्रा के लिए-

केले का सेवन करने से अच्छी नींद की प्राप्ति होती है। क्योंकि केला खाने से शरीर में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन का उत्पादन बढ़ जाता है। जो बेहतर और पर्याप्त नींद लेने में मददगार साबित होते हैं। इसके अलावा केले में मौजूद मैग्नीशियम मांसपेशियों को आराम देने का काम करता है।

 

दांतों की सफेदी के लिए-

दांतों के पीलेपन को हटाने के लिए केले का छिलका एक कारगर घरेलू नुस्खा है। हफ्ते में तीन-चार बार केले के छिलके को दांतों पर रगड़ने से दांत साफ हो जाते हैं।

 

मासिक धर्म के लिए-

शरीर में पोटैशियम की कमी होने से पेट में ऐंठन की समस्या हो सकती है। चूंकि केले में पोटैशियम मौजूद होता है। जो मासिक धर्म के समय पेट की ऐंठन से निजात दिलाने में सहायता करता है। इसके अलावा केला विटामिन-बी6 से भी भरपूर होता है। जो मासिक धर्म को सरल बनाने में मदद करता है।

 

त्वचा के लिए केले के फायदे-

त्वचा को रखे मॉइस्चराइजर-

केला त्वचा पर बेहतरीन प्राकृतिक मॉइस्चराइजर के रूप में काम करता है। क्योंकि केला कैरोटिनॉइड से भरपूर होता है। जो शुष्क और सुस्त त्वचा को शीघ्र मॉइस्चराइज करता है।

 

कैसे करें इस्तेमाल:

एक पके हुए केले को अच्छे से मैश करके, उसे आंखों को छोड़कर पूरे चेहरे पर लगा लें। लगभग 20-25 मिनट बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें। यदि आपकी त्वचा ज्यादा शुष्क है, तो केले में शहद मिलाकर इस्तेमाल करें।

 

अर्थात

एक पके हुए केले को अच्छे से मैश करके, उसमें एक चम्मच दही और एक चम्मच विटामिन-ई ऑयल जैसे आलमंड ऑयल को मिलाकर पूरे चेहरे पर लगा लें। लगभग 20-25 मिनट बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

 

चमकती त्वचा के लिए-

त्वचा को चमकदार बनाने हेतु केला एक कारगर उपाय है। क्योंकि केले में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों बचाने का काम करते हैं।

 

कैसे करें इस्तेमाल:

आधे पके हुए केले को अच्छे से मैश करके, उसमें एक चम्मच चंदन पेस्ट और एक चौथाई चम्मच शहद मिलाकर मिश्रण को चेहरे व गर्दन पर लगाएं। अब लगभग 20-25 मिनट बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धोएं।

 

एंटी एजिंग के लिए-

केले में नियासिन, राइबोफ्लेविन, थायमिन और फोलिक एसिड के रूप में विटामिन-ए और विटामिन-सी की भरपूर मात्रा होती है। विटामिन-ए को एक कारगर एंटी एजिंग माना जाता है। जो त्वचा में कोलेजन को बढ़ाकर झुर्रियों को दूर करने का काम करता है।

 

कैसे करें इस्तेमाल:

एक चौथाई पके हुए केले को मैश करके, उसमें एक से दो चम्मच गुलाब जल मिलाकर चेहरे और गले पर लगाएं। लगभग तीस मिनट बाद चेहरे को हल्के ठंडे पानी से धो लें। इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो से तीन बार किया जा सकता है।

 

मुंहासे और सूजी हुई आंखों के लिए-

केले के छिलके का इस्तेमाल बढ़ते मुंहासों और आंखों के आसपास की सूजन को कम करने के लिए किया जाता है। क्योंकि इसके छिलके में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। जो त्वचा को मुंहासे और सूजन से आराम दिलाने का काम करते हैं।

 

कैसे करें इस्तेमाल:

केले के छिलके के अंदर वाले भाग से प्रभावित जगह को कुछ देर रगड़ें और बाद में साफ पानी से धो लें।

 

त्वचा की मृत कोशिकाओं के लिए-

केले के उपयोग से त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाया जा सकता है। क्योंकि केला एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। जो त्वचा से डेड सेल्स को हटाने का काम करता है।

 

कैसे करें इस्तेमाल:

एक पके हुए केले को अच्छे से मैश करके, उसमें एक चम्मच चीनी मिलाएं। अब स्क्रब को चेहरे और गर्दन पर लगाकर उंगलियों की मदद से कुछ देर स्क्रबिंग करें। बाद में गुनगुने पानी से चेहरे को धोएं।

 

ब्यूटी स्लिप के लिए-

पर्याप्त नींद अच्छी त्वचा के लिए बेहद जरूरी होती है। इसलिए त्वचा का अच्छे से ध्यान रखने के लिए रोजाना केला खाना चाहिए। केले का सेवन करने से अच्छी नींद की प्राप्ति होती है। क्योंकि केला खाने से शरीर में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन का उत्पादन बढ़ जाता है। जो बेहतर और पर्याप्त नींद लेने में मददगार साबित होते हैं। इसके अलावा केले में मौजूद मैग्नीशियम मांसपेशियों को आराम देने का काम करता है।

 

कैसे करें इस्तेमाल:

प्रतिदिन सोने से करीब डेढ़ घंटे पहले एक केले का सेवन जरूर करें।

 

बालों के लिए केले के फायदे-

बालों के विकास के लिए-

बालों को ठीक पोषण न मिलने की वजह से उनका विकास रुक जाता है। और परिणामस्वरूप बाल समय से पहले गिरने लगते हैं। दरअसल आयरन और फैटी एसिड की कमी के कारण बालों का गिरना या झड़ना शुरू होता है। ऐसे में केला का इस्तेमाल बालों के लिए काफी लाभदायक हो सकता है। क्योंकि केला आरयन और फैटी एसिड का एक बेहतरीन स्रोत है।।

 

कैसे करें इस्तेमाल:

नाश्ते के रूप में प्रतिदिन कम से कम एक केला का सेवन जरूर करें। इसके अलावा आप केले के निम्नलिखित हेयर मास्क भी अपना सकते हैं

 

चमकदार बालों के लिए-

एक पके हुए केले में एक चौथाई कप जैतून का तेल और एक अंडे की सफेदी को अच्छे से मिलाकर, मिश्रण को बालों पर लगाएं और 15 मिनट बाद बालों को शैम्पू या कंडीशनर से धो लें।

मुलायम बालों के लिए-

एक पके हुए केले को एवोकाडो के साथ अच्छे से मैश करके, इसमें एक चम्मच जैतून का तेल मिलाकर, मिश्रण को बालों और स्कैल्प (खोपड़ी) पर अच्छे से लगाएं। इसके बाद बालों को हेयर कवर से 15 मिनट के लिए ढक दें। और फिर बालों को शैंपू से अच्छे से धो लें।

क्षतिग्रस्त बालों के लिए-

एक पके हुए केले में आधा चम्मच बादाम तेल मिलाकर, मिश्रण को बालों और स्कैल्प पर अच्छे से लगाएं और 10 से 15 मिनट बाद बालों को शैंपू व कंडीशनर की मदद से धो लें।

मजबूत बालों के लिए-

एक पके हुए केले में दो-तीन चम्मच दही मिलाकर, पेस्ट को स्कैल्प (खोपड़ी) पर अच्छे से लगाएं और 15-20 मिनट बाद बाल को शैंपू की मदद से धो लें।

सूखे बालों के लिए-

एक पके हुए केले में दो-तीन चम्मच दही मिलाकर, मिश्रण को बालों और स्कैल्प पर अच्छे से लगाएं और 15-20 मिनट बाद बाल को शैंपू व कंडीशनर की मदद से धो लें।

Share: